Ram Mandir || अयोध्या राम मंदिर उद्घाटन

ghanshyam kumawat
7 Min Read
Ram Mandir || अयोध्या राम मंदिर उद्घाटन

Ram Mandir Ayodhya ,राम मंदिर उद्घाटन

Ram Mandir (राम मंदिर) :  भारत का सबसे लोकप्रिय राम मंदिर जो अयोध्या नगरी मे बुराई पर अछाई के जीत के स्वरूप मे बनाया गया है  । आज श्री राम प्रभु के सभी भक्तों के अथक प्रयासों के कारण राम लला पुनः अपने घर लौट रहे है । श्री राम जन्मभूमि पर अयोध्या मे खुशी का माहोल छाया हुआ है । राम मंदिर उद्घाटन की तारिक नजदीक आ चुकी है तथा प्रभु राम जी के इस भव्य मंदिर का उद्घाटन भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा किया जाएगा ।

आइए इस आर्टिकल मे जानते है की क्या है राम मंदिर की कहानी तथा उद्घाटन समारोह से जुड़ी सभी सूचनाओ के बारे मे जानेंगे एवं साथ ही सरकार द्वारा राम मंदिर के लिए की गई सभी व्यवस्थाओ के बारे मे जानते है ।

Ram Mandir || अयोध्या राम मंदिर उद्घाटन

राम मंदिर की कहानी || Ram Mnadir Ayodhya Story

श्री राम मंदिर का इतिहास कई  वर्षों पुराना है । भारत के इतिहास मे राम मंदिर एक काली सच्चाई को लिए हुवे है , यह अपने साथ मुगलों के अत्याचारों की दर्दनाक कहानी को बया करता है ।  लगभग 15 वी शताब्दी के समय जब भारत मे मुगलों का आगमन हुआ तब वे अपने साथ मौत का पैमान लाए ही थे साथ  ही उन्होंने भारत की संस्कृति को नष्ट करते हुवे भारत के लोगों की आध्यात्मिक भावनाओ को कुचलते हुवे मंदिरों का विध्वंश करना शुरू कर दिया । इसी के चलते मुगलों ने अयोध्या मे भगवान श्री राम के मंदिर का विध्वंश कर बाबरी मस्जिद बना दी ।

राम लला मंदिर विवाद – Ram Mandir

मुगलों के जाने के बाद 1850 के दशक के चलते लोगों मे राम मंदिर को लेकर विवाद बढ़ने लगा । लोगों का  यह मानना था की  बाबरी मस्जिद का निर्माण राम मंदिर को तोड़कर किया गया था । इसी के चलते विवाद ने हिंसक रूप ले लिया और दिसंबर 1992 मे लोगों ने मिलकर बाबरी मस्जिद का विध्वंश कर दिया । बाबरी मस्जिद के विध्वंश से मुस्लिम समुदाय के लोगों ने हिसक रूप ले दिया और दोनों गुटों मे मुठभेड़ होने लगी ।

लोगों  के आपसी विवाद को देखकर बाबरी मस्जिद और राम मंदिर को लेकर सुप्रीम कोर्ट मे याचिका दायिर की गई । यह विवादित केस कई  वर्षों तक चला और आखिर मे 2019 मे न्यायालय ने इस विवादित भूमि को सरकार द्वारा गठित ट्रस्ट को सौप दिया । और 5 फरवरी 2020 को न्यायालय ने राम भूमि विवाद का फैसला सुनाते हुवे राम मंदिर निर्माण की अनुमति दे दी ।

5 अगस्त 2020 को देश के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने श्री राम मंदिर का शिलान्यास करते हुवे मंदिर की पहली ईट रखकर मंदिर निर्माण का शुभारंभ किया ।

राम मंदिर उद्घाटन – Ram Mandir

भारत सरकार और श्री राम प्रभु के भक्तों के अथक प्रयासों से आज वह तारिक नजदीक आ चुकी है जिसका सभी लोगों को इंतजार था । वर्ष 2024 मे 22 जनवरी को भारत के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र दामोदर दास मोदी के कर कमलों द्वारा किया जाएगा । राम मंदिर के उद्घाटन की सभी तैयारिया हो चुकी है । मंदिर का सम्पूर्ण कार्य पूर्ण हो चुका है । मंदिर उद्घाटन मे देश के विभिन्न भागों मे मंदिर कमेटी के द्वारा निमंत्रण के उपलक्ष मे पीले चावल भिजवाए जा रहे है । तथा इसी के साथ भारत के विभिन्न कोनों से राम मंदिर की पहली आरती के लिए शुद्ध देशी घी मँगवाया जा रहा है ।

अयोध्या मे ठहरने की व्यवस्था

अयोध्या मेRam Mandir  के उद्घाटन मे आए सभी भक्तों के लिए योगी सरकार के द्वारा टेंट हाउस तथा घरों को गेस्ट रूम बनाकर लोगों को ठहराया जाएगा । इसके अलावा जो पैसे वाले लोग है उनके लिए होटल तथा लॉज है जहा वे रुक सकते है । उपी सरकार का कहना है की राम मंदिर उद्घाटन मे आए सभी भक्तों के लिए हर संभव व्यवस्था उपलब्ध करायेगे ।

उद्घाटन मे आए वीवीआईपी मेहमानों के लिए विशेष व्यवस्था के साथ साथ सुरक्षा व्यवस्था के भी पुख्ता इंतजाम किए गए है ।

19 January Special Train

19 जनवरी 2024 को राम मंदिर के उद्घाटन के चलते भारत सरकार के द्वारा अयोध्या के लिए विशेष ट्रेन चलाई जा रही है ताकि राम जी के दर्शनों को आने वाले सभी भक्तों के लिए यात्रा सुगम हो सके । सरकार द्वारा इन विशेष ट्रेनों का संचालन 100 दिनों तक किया जाएगा । इन ट्रेनों  का संचालन विशेष रूप से दिल्ली, मुंबई, चेन्नई, बेंगलुरु, पुणे, कोलकाता, नागपुर, लखनऊ, जम्मू और दिल्ली से अयोध्या तक किया जाएगा ।

राम मंदिर अयोध्या स्पेशल 1000 ट्रेनें

राम मंदिर के उद्घाटन तथा लोगों के राम मंदिर के प्रति विशेष लगाव को देखते हुवे रेल मंत्रालय द्वारा विशेष रूप से 1000 ट्रेनों को चलाने विचार किया जा रहा है । रेल मंत्रालय भारत के सभी मुख्य शहरों को अयोध्या से जोड़ने के लिए विशेष ट्रेनों को चलाने का प्रस्ताव पारित करने वाला है । इन ट्रेनों के शुरू होने से अयोध्या जाने वाले लोगों के लिए यातायात सरल हो जाएगा ।

लोगों द्वारा पूछे गए कुछ प्रश्न

राम मंदिर Ram Mandir उद्घाटन कब होगा?

राम मंदिर का उद्घाटन 22 जनवरी 2024 को होगा ।

श्री राम मंदिर का घंटा कितना बड़ा है?

राम लला के मंदिर मे लगने वाले घंटे का वजन करीबन 2100 किलो तथा यह घंटा 5 फिट चौड़ा एवं 6 फिट ऊंचा है ।

श्री राम मंदिर का केस कितने साल से चल रहा है?

राम मंदिर Ram Mandir तथा बाबरी मस्जिद का केस लगभग 10 सालों तक चला ।

श्री राम जन्मभूमि का इतिहास जानने के लिए यहा क्लिक करे – 

 

 

 

 

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *